पिछला

ⓘ प्रदक्षिणा. इष्टदेव की मूर्ति के चारों ओर वृत्ताकार इस प्रकार घूमना जिसमें देव या मंदिर अपने दक्षिण भाग में रहे, प्रदक्षिणा कहलाता है। यह प्रदक्षिणा एक उपचार मा ..



प्रदक्षिणा
                                     

ⓘ प्रदक्षिणा

इष्टदेव की मूर्ति के चारों ओर वृत्ताकार इस प्रकार घूमना जिसमें देव या मंदिर अपने दक्षिण भाग में रहे, प्रदक्षिणा कहलाता है। यह प्रदक्षिणा एक उपचार माना जाता है, ऐसा बहुतों का मत है। प्रदक्षिणा के अंत में प्रणाम अवश्य करना चाहिये, बहुतों का मत है। किसी-किसी ग्रंथ में प्रदक्षिणा के विशेष नियम उपलब्ध होते है; विश्वासरतंत्र में कहा गया है कि हाथ में शंख लेकर देवता की प्रदक्षिणा करनी चाहिए। नमस्कार के साथ प्रदक्षिणा के विभिन्न रूप कहे गए हैं, जैसे, शिवप्रणाम में अर्धचंद्राकार प्रदक्षिणा कर नमस्कार करना चाहिए। देवविशेष के अनुसार प्रदक्षिणा की संख्या में भी भेद होते हैं। चंडी के लिये एक, सूर्य के लिये सात प्रदक्षिणाएँ विहित हैं। पदक्षिणा का यह नियम अधिक प्रचलित है कि गणेश के लिये एक बार, सूर्य के लिये दो बार, शिव के लिये तीन बार, विष्णु के लिये चार बाऔर अश्वत्थ वृक्ष के लिये सात बार प्रदक्षिणा करनी चाहिए।

यह प्रदक्षिणा पूजा का एक अंग है, अत: भक्तिभाव से ही इसका अनुष्ठान होना चाहिए।

                                     
  • उद द श य गर भ ग ह क प रदक ष ण थ इस प रक र सन ध र श ल म प रदक ष ण पथ ह आ करत ह न रन ध र: इस श ल क मन द र म प रद क ष ण पथ नह ह त ह सर वत भद र:
  • ब द ध आद म पव त र स थल क च र ओर श रद ध भ व स चलन पर क रम य प रदक ष ण कहल त ह मन द र, नद पर वत आद क पर क रम क प ण यद य म न गय ह
  • पर क रम : प रदक ष ण क स पव त र स थल क च र ओर घ मन पर क रम मह द व वर म क कव त स ग रह पर क रम ड जगन न थ प रस द द स क ओड य क त
  • ज स - व म वर त श ख 2. क र य ज सक आर भ ब ई ओर स ह ज स - व म वर त प रदक ष ण दक ष ण - वर त क व पर य य ए ट क ल कव इज ज स अ ग र ज लघ र प म
  • धर मर ज क स त प 15 म टर ऊ च और 50 म टर क व य स एक पर पत र स रचन ह प रदक ष ण क ल ए एक म र ग ह म ख य स त प क च र ओर स थ त इम रत म त न व श ष
  • ह ज न ह गर भग ह क प रदक ष ण करत समय प रण म क य ज त ह गर भग ह क ल ब ई च ड ई प र य: छ ट ओर बर बर ह त ह प रदक ष ण पथ स घ र म द र म
  • न र ज न मक न य त र त ग ब ब र ड र ज ब ल म उड कर द ब र उत तर ध र व क प रदक ष ण क और घ ट म म ल क य त र करक सफल प र वक फ र भ म पर उतर
  • म न व रत रहन स सहस र ग द न क फल म लत ह श स त र म इस अश वत थ प रदक ष ण व रत क भ स ज ञ द गय ह अश वत थ य न प पल व क ष इस द न व व ह त स त र य
  • दर शन द र म ळ प स तक त न प र..क घ ण कर र यगड प रदक ष ण ग न परद श र यगड प रदक ष ण स मन थ सम ळ, र यगड - मह र ष ट र र ज य पदय त र
  • gopuram at Madurai Nelliappar.jpg Temple gopuram at Tirunelveli श खर स त प प रदक ष ण म ण डप व म न Ching, Francis D.K. एव अन य 2007 ए ग ल बल ह स ट र ऑफ
  • म हण आरत करत त ह त त अक षत धर न त ळस क ट ट य क प च प रदक ष ण घ ल न पड य क प त प रदक ष ण घ लतन स र यद व क आन त ळस क अक षत अर पण करत त ब द ल
  • फ र स और अम र क क य त र ए क ह सम प र ण भ रतवर ष क अस ख य ब र प रदक ष ण क ह अभ क छ द न प र व न प ल म आए भ षण भ कम प क ब द स घ द व र
                                     
  • क ब रह म कह गय ह स ध स न य स इस पव त र व क ष क प ज करत ह प रदक ष ण ह त स त पर क रम करत ह इस ग व क ल ग आज भ इस एक स म न य प पल क
  • य न क न च प प न जन म न तर क त न च त न त न व नश यन त प रदक ष ण पद पद प रदक ष ण नमस क र न समर पय म ॐ स द ध व न यक य नम समस त र ज पच र न
  • व ध द प रक र क ह त ह - व रत और द व र भस मस न न, भस मशयन, जप, प रदक ष ण उपह र आद क व रत कहत ह श व क न म ल कर ठह कर ह सन ग ल बज न ग न
  • श व - प र वत क स त प रदक ष ण कर ल क य क स र प थ व क प रदक ष ण करन स ज प ण य ह त ह वह प ण य म त - प त क प रदक ष ण करन स ह ज त ह
  • प त मह द द स ह ब फ ल क क जन म यह ह आ थ प रदक ष ण वलय म र ग फ र इस क षत र म द प रदक ष ण वलय म र ग ह - एक ग ल ब रह मग र और द सर एक
  • तरफ स आ गन म प रव श करत ह और म र त क स मन ज न स पहल उसक प रदक ष ण करत ह वह गर भग ह और बर मद प रव श द व र क ब च गर ड स त भ ह ज
  • गय ह - क श मरण न म क त क श क पर क रम करन स सम प र ण प थ व क प रदक ष ण क प ण यफल प र प त ह त ह भक त सब प प स म क त ह कर पव त र ह ज त
  • च ड एक प रदक ष ण पथ ज ड गय त सर ब र स त प क पर वर द धन हर ष क श सन - क ल 7व सद म ह आ उस समय स त प क ग रन क डर स प रदक ष ण पथ क ई ट
  • यजम न श द ध वस त र एव म ल ध रण क ए ह ए अ जल म प ष प ल कर त ल क त न प रदक ष ण करत ह अ जल क प ष प क द वत क चढ कर द ह न ह थ म धर मर ज क
  • चब तर पर बन ह आ ह मन द र म म ख य भ ग मण डप और गर भग ह क च र ओर प रदक ष ण पथ ह ब हर प र गण म नन द ब ल व हन क र प म व र जम न ह मन द र
  • उनक ल ए श कर - मह द व क म द र स बन गय व न त य वह ज त सम ध क प रदक ष ण कर उस नमस क र करत व उसपर द प भ जलव त ग रफ त र क र त क उनक

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →