ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 55



                                               

श्वसन तंत्र के रोग

श्वसन तंत्र के रोगों में फेफड़ों के रोग, श्वासनली के रोग सहित इस तंत्र के अन्य रोग शामिल हैं। श्वसन तंत्र के रोगों में स्वयंसीमित सर्दी-जुकाम से लेकर जीवाणुजन्य न्यूमोनिया जैसे घातक रोग हैं। गीली खांसी ऐसी खांसी है जिसके होने से बलगम निकलता है जो ...

                                               

श्वसनीशोथ

फेफड़ों के अंदर स्थित श्वसनी के श्लेष्मकला के प्रदाह को श्वसनीशोथ या ब्रोंकाइटिस कहते है। श्वासनली से फेफड़ों में वायु ले जाने वाली नलियों को श्वसनी कहते हैं। इसमें श्वसनी की दीवारें इन्फेक्शन व सूजन की वजह से अनावश्यक रूप से कमजोर हो जाती हैं जि ...

                                               

श्वासावरोध

श्वासावरोध अथवा दम घुटना शरीर में ऑक्सीजन की आपूर्ति की कमी है, जो कि असामान्य तरीके से सांस लेने के कारण होता है। श्वासावरोध सामान्यीकृत हाइपोक्सिया, का कारण बनता है, जो मुख्य रूप से ऊतकों और अंगों को प्रभावित करता है। कई परिस्थितियाँ श्वासावरोध ...

                                               

श्वेत प्रदर

श्वेत प्रदर या सफेद पानी का योनी मार्ग से निकलना Leukorrhea कहलाता है। यह हमेशा रोग का लक्षण नहीं होता। अधिकतर महिलाएं इस गलत फैमी में होती है कि सफेद पानी के जाने से शरिर में कमजोरी आती है, चक्कर आता है, बदन में दर्द होता है। शरिर से तेजस्विता च ...

                                               

संक्रमण

रोगों में कुछ रोग तो ऐसे हैं जो पीड़ित व्यक्तियों के प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष संपर्क, या उनके रोगोत्पादक, विशिष्ट तत्वों से दूषित पदार्थों के सेवन एवं निकट संपर्क, से एक से दूसरे व्यक्तियों पर संक्रमित हो जाते हैं। इसी प्रक्रिया को संक्रमण कहते ...

                                               

संक्रामक रोग

संक्रामक रोग, रोग जो किसी ना किसी रोगजनित कारको जैसे प्रोटोज़ोआ, कवक, जीवाणु, वाइरस इत्यादि के कारण होते है। संक्रामक रोगों में एक शरीर से अन्य शरीर में फैलने की क्षमता होती है। मलेरिया, टायफायड, चेचक, इन्फ्लुएन्जा इत्यादि संक्रामक रोगों के उदाहर ...

                                               

सर्वांगशोथ

सर्वांगशोथ, या देहशोथ शरीर की एक विशिष्ट सर्वांगीय शोथयुक्त अवस्था है, जिसके अंतर्गत संपूर्ण अधस्त्वचीय ऊतक में शोथ के कारण तरल पदार्थ का संचय हो जाता है। इसके कारण शरीर का आकार बहुत बड़ा हो जाता है तथा उसकी एक विशेष प्रकार की आकृति हो जाती है।

                                               

सायटिका

कमर से संबंधित नसों में से अगर किसी एक में भी सूजन आ जाए तो पूरे पैर में असहनीय दर्द होने लगता है, जिसे गृध्रसी या सायटिका कहा जाता है। यह तंत्रिकाशूल का एक प्रकार है, जो बड़ी गृघ्रसी तंत्रिका में सर्दी लगने से या अधिक चलने से अथवा मलावरोध और गर् ...

                                               

सिरदर्द

सिरदर्द या शिरपीड़ा सिर, गर्दन या कभी-कभी पीठ के उपरी भाग के दर्द की अवस्था है। यह सबसे अधिक होने वाली तकलीफ है, जो कुछ व्यक्तियों में बार बार होता है। सिरदर्द की आमतौपर कोई गंभीर वजह नहीं होती, इसलिए लाइफस्टाइल में बदलाव और रिलैक्सेशन के तरीके स ...

                                               

सिलिकामयता

सिलिकामयता फेफड़ों से सम्बन्धित बिमारी है जो सिलिका भरे वातावरण में सांस लेने से क्रिस्तलीय सिलिका के फेफड़ों में एकत्र होने के कारण होती है।

                                               

सुजाक

सुजाएक संक्रामक यौन रोग) है। सुजाक नीसेरिया गानोरिआ नामक जीवाणु से होता है जो महिला तथा पुरुषों में प्रजनन मार्ग के गर्म तथा गीले क्षेत्र में आसानी और बड़ी तेजी से बढ़ती है। इसके जीवाणु मुंह, गला, आंख तथा गुदा में भी बढ़ते हैं। उपदंश की तरह यह भी ...

                                               

सोरियासिस संधिशोथ

सोरियासिस संधिशोथ एक दीर्घकालिक गठिया है जो छाल रोग नामक स्वप्रतिरक्षित रोग से प्रभावित लोगों में होता है। सोरियाटिक गठिया का चिरपरिचित लक्षण पैर की सभी अंगुलियों तथा अंगूठे की सूजन होना है। यह अक्सर नाखूनों में परिवर्तन के साथ होता है जैसे कि ना ...

                                               

स्तन की सूजन

स्तन की सूजन स्तन या उदर की सूजन है, आमतौपर स्तनपान से जुड़ा होता है। लक्षणों में आम तौपर स्थानीय दर्द और लाली शामिल है। अक्सर बुखाऔर सामान्य दर्द भी होता है। शुरुआत आम तौपर काफी तेज़ होती है और आमतौपर प्रसूति के पहले कुछ महीनों में होती है। और फ ...

                                               

स्तन रोग

ज्यादातर महिलाओं को कुछ समय में स्तन परिवर्तन का अनुभव होता है। स्तन रोगों को या तो प्रजनन प्रणाली के विकार, या प्रजनन के विकारों के साथ वर्गीकृत किया जा सकता है। स्तन रोग अधिकांश कैंसरमुक्त रोग होते हैं। स्तन रोगों के कई प्रकार हैं। वह कारण है स ...

                                               

हर्निया

मानव शरीर के कुछ अंग शरीर के अंदर खोखले स्थानों में स्थित है। इन खोखले स्थानों को "देहगुहा" कहते हैं। देहगुहा चमड़े की झिल्ली से ढकी रहती है। इन गुहाओं की झिल्लियाँ कभी-कभी फट जाती हैं और अंग का कुछ भाग बाहर निकल आता है। ऐसी विकृति को हर्निया कहत ...

                                               

हाईपोथर्मिया

अल्पताप शरीर की वह स्थिति होती है जिसमें तापमान, सामान्य से कम हो जाता है। इसमें शरीर का तापमान ३५° सेल्सियस से कम हो जाता है। शरीर के सुचारू रूप से चलने हेतु कई रासायनिक क्रियाओं की आवश्यकता होती है। आवश्यक तापमान बनाए रखने के लिए मानव मस्तिष्क ...

                                               

हायपर ग्लाईसीमिया

मधुमेह होने पर शरीर को भोजन से ऊर्जा प्राप्त करने में कठिनाई होती है। पेट फिर भी भोजन को ग्लूकोज में बदलता रहता है। ग्लूकोज रक्त धारा में जाता है। किन्तु अधिकांश ग्लूकोज कोशिकाओं में नही जा पाते जिसके कारण इस प्रकार हैं: इंसुलिन की मात्रा अपर्याप ...

                                               

हिचकी

हमें अधिक मिर्च मसालेदार व्यंजन खाने के बाद अथवा हडबडी मे खाना खाने के बाद अचानक ही हिचकी आने लगती है. सामान्य रूप से यह जाना जाता है कि हिचकी आने के पीछे के मूल वजह खुराक के कणो का श्वसन नलिका मे फँस जाना होता है. परंतु हिचकी आने के पीछे की मूल ...

                                               

हीमोफीलिया

पैतृक रक्तस्राव या हीमोफिलिया एक आनुवांशिक बीमारी है जो आमतौपर पुरुषों को होती है और औरतों द्वारा फैलती होती है। हीमोफीलिया आनुवंशिक रोग है जिसमें शरीर के बाहर बहता हुआ रक्त जमता नहीं है। इसके कारण चोट या दुर्घटना में यह जानलेवा साबित होती है क्य ...

                                               

हृदय की विफलता

"हृदय की विफलता" का सीधा सा अर्थ है आपका हृदय जितना आवश्यक है, उतने अच्छे तरीके से रक्त की पम्पिंग नहीं कर रहा है। हृदय की विफलता का अर्थ यह नहीं है की आपके हृदय ने कार्य करना बंद कर दिया है या आपको हृदयाघात हो रहा है । हृदय की विफलता को कन्जेस्ट ...

                                               

हृदय विफलन

हृदयाघात आज मनुष्य-जाति के सर्वाधिक प्राणलेवा रोगों में से प्रमुख है जो मानसिक तनाव एवं अवसाद से जुड़ा हुआ है। दोषपूर्ण भोजन-विधि, मद्यपान, धूम्रपान, मादक पदार्थों का सेवन तथा विश्रामरहित परिश्रम इत्यादि हृदय-रोग के प्रमुख कारण हैं। इसके निदान के ...

                                               

हैजा

विसूचिका या आम बोलचाल मे हैजा, जिसे एशियाई महामारी के रूप में भी जाना जाता है, एक संक्रामक आंत्रशोथ है जो वाइब्रियो कॉलेरी नामक जीवाणु के एंटेरोटॉक्सिन उतपन्न करने वाले उपभेदों के कारण होता है। मनुष्यों मे इसका संचरण इस जीवाणु द्वारा दूषित भोजन य ...

                                               

अंग प्रणाली के अनुसार रोग और विकार

                                               

अज्ञातहेतुक रोग

                                               

आँख के रोग

                                               

आंख के रोग

                                               

आंत के रोग

                                               

इंफ्लुएंज़ा

                                               

एड्स

                                               

एपिकॉम्प्लैक्सा

                                               

कान के रोग

                                               

कीड़ों द्वारा फैलाए जाने वाले रोग

                                               

कुपोषण

                                               

गर्दन के रोग

                                               

गले के रोग

                                               

ग्रंथि रोग

                                               

चर्म रोग

                                               

चर्मरोग

                                               

जन्मजात रोग

                                               

जीवाणु रोग

                                               

जोड़ों के रोग

                                               

ज्वर

                                               

त्वचा रोग

                                               

दुर्लभ रोग

                                               

नाक के रोग

                                               

निमोनिया

                                               

निर्जलीकरण

                                               

न्यूरोलॉजिकल रोग

                                               

परजीवी रोग

                                               

पशु पक्षी रोग

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →