ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 218



                                               

भूसन्नति

भूसन्नति भूविज्ञान तथा भूआकृतिविज्ञान की एक अपेक्षाकृत पुरानी संकल्पना और शब्द है जिसका व्यवहार अभी भी कभी-कभी ऐसे छिछले सागरों अथवा सागरीय द्रोणियों के लिए किया जाता है जिनमें अवसाद जमा होने और तली के धँसाव की प्रक्रिया चल रही हो। सर्वप्रथम इस त ...

                                               

मिश्रित ज्वालामुखी

मिश्रित ज्वालामुखी, एक लंबा, शंक्वाकार ज्वालामुखी होता है, जिसका निर्माण जम कर ठोस हुए लावा, टेफ्रा, कुस्रन और ज्वालामुखीय राख की कई परतों द्वारा होता है। मिश्रित ज्वालामुखी को ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि, इनकी रचना ज्वालामुखीय उद्गार के समय नि ...

                                               

मैदान (भूगोल)

                                               

राजकुण्ड

                                               

रिफ़्ट घाटी

रिफ़्ट घाटी एक स्थलरूप है जिसका निर्माण विवर्तनिक हलचल के परिणामस्वरूप होने वाले भ्रंशन के कारण होता है। ये सामान्यतया पर्वत श्रेणियों अथवा उच्चभूमियों के बीच स्थित लम्बी आकृति वाली घाटियाँ होती हैं जिनमें अक्सर झीलें भी निर्मित हो जाती है।

                                               

लावा

लावा पिघली हुई चट्टान आर्थात मैग्मा का धरातल पर प्रकट होकर बहने वाला भाग है। यह ज्वालामुखी उद्गार द्वारा बाहर निकलता है और आग्नेय चट्टानों की रचना करता है। ज्वालामुखी से निकले लावा से बेसाल्ट चट्टानो का निर्माण हुआ, जिनके निक्षादन से र्पायदिपिय प ...

                                               

वलित पर्वत

वलित पर्वत वे पर्वत हैं जिनका निर्माण वलन नामक भूगर्भिक प्रक्रिया के तहत हुआ है। प्लेट विवर्तनिकी के सिद्धांत के बाद इनके निर्माण के बारे में यह माना जाता है कि भूसन्नतियों में जमा अवसादों के दो प्लेटों के आपस में करीब आने के कारण दब कर सिकुड़ने ...

                                               

विलयन छिद्र

                                               

शैल

पृथ्वी की ऊपरी परत या भू-पटल में मिलने वाले पदार्थ चाहे वे ग्रेनाइट तथा बालुका पत्थर की भांति कठोर प्रकृति के हो या चाक या रेत की भांति कोमल; चाक एवं लाइमस्टोन की भांति प्रवेश्य हों या स्लेट की भांति अप्रवेश्य हों, चट्टान अथवा शैल कहे जाते हैं। इ ...

                                               

स्थलाकृति

स्थलाकृति ग्रहविज्ञान की एक शाखा है जिसमें पृथ्वी या किसी अन्य ग्रह, उपग्रह या क्षुद्रग्रह की सतह के आकार व आकृतियों का अध्ययन किया जाता है। नक़्शों के निर्माण में स्थलाकृति का विशेष महत्व है।

                                               

हेलिक्टाइट

ये भी स्तंभ जैसी आक्र्ति हैं किन्तु इनका निर्माण जल की बूंदो द्वारा नही बल्कि आर्द्रतायुक्त सतह पर होता हैं। इसके निर्माण मे गुरुत्व का प्रभाव नही होता। इसका विकास किसी भी मे सम्भव हैं।

                                               

हॉगबैक

अपरदन के बाद निर्मित अवरोधी शैलों वाली लम्बी, पतली तथा खड़े ढाल वाली श्रेणियों को हाॅगबैक या शूकर कटक कहते हैं। इसका नति तथा ढाल दोनो खड़े होते हैं जबकि क्वेस्टा का नति तथा ढाल झुका होता है।

                                               

अपरदन

                                               

अपरदनात्मक स्थलरूप

                                               

कार्स्ट

                                               

खाड़ियाँ

                                               

गुफ़ाएँ

                                               

घाटियाँ

                                               

जल निकाय

                                               

झीलें

                                               

द्रोणियाँ

                                               

नदियाँ

                                               

नदीय भू-आकृति विज्ञान

                                               

पर्वतीय भू-आकृति विज्ञान

                                               

पवन द्वारा उत्पन्न स्थलाकृति

                                               

प्लेट विवर्तनिकी

                                               

बर्फ़ समूह

                                               

भौगोलिक प्लेटें

                                               

मरुस्थल

                                               

रिफ़्ट घाटियाँ

                                               

संरचनात्मक भू-आकारिकी

                                               

संरचनात्मक स्थलरूप

                                               

सौर मंडल की वस्तुओं की सतही स्थलाकृतियाँ

                                               

स्थलरूप

                                               

ज्यावक्रीय प्रक्षेप

ज्यावक्रीय प्रक्षेप एक छद्म-बेलनाकार समक्षेत्र प्रक्षेप है जिसे कभी-कभी सैन्सन-फ्लैमस्टेड प्रक्षेप भी कहा जाता है अथवा मर्केटर का समक्षेत्र प्रक्षेप कहा जाता है। दायपे के जीन कॉसीं ने संभवतः सबसे पहले इस प्रक्षेप का प्रयोग विश्व के मानचित्र को प् ...

                                               

मर्केटर प्रक्षेप

मर्केटर प्रक्षेप एक भौगोलिक प्रक्षेपण विधि है। नौचालन में विशेषोपयोगी होने के कारण मर्केटर प्रक्षेप प्राचीन और सर्वाधिक सुविदित है। इसकी खोज मर्केटर नाम से विख्यात गर्हार्ड क्रेमर ने 1569 ई में की थी। लोगों की मिथ्या धारणा है कि बेलनाकार प्रक्षेप है।

                                               

मानचित्र प्रक्षेप

गोलाकार पृथ्वी अथवा पृथ्वी के किसी बड़े भू-भाग का समतल सतह पर मानचित्र बनाने के लिए प्रकाश अथवा ज्यामितीय विधियों के द्वारा निर्मित अक्षांस-देशान्तर रेखाओं के जाल या भू-ग्रिड को मानचित्र प्रक्षेप कहा जाता हैं। मानचित्रकला कार्टोग्राफी के अंतर्गत ...

                                               

मापनी

मानचित्र में प्रदर्शित किन्ही दो बिन्दुओं के बीच की दूरी तथा उन बिन्दुओं के बीच की धरातल पर वास्तविक दूरी के मध्य के अनुपात को उस मानचित्र की मपनी कहतें हैं।

                                               

भौगोलिक रेखाएं

                                               

मानचित्र प्रक्षेप

                                               

सर्वेक्षण

                                               

कोयला

कोयला एक ठोस कार्बनिक पदार्थ है जिसको ईंधन के रूप में प्रयोग में लाया जाता है। ऊर्जा के प्रमुख स्रोत के रूप में कोयला अत्यन्त महत्वपूर्ण हैं। कुल प्रयुक्त ऊर्जा का ३५% से ४०% भाग कोयलें से पाप्त होता हैं। कोयले से अन्य दहनशील तथा उपयोगी पदार्थ भी ...

                                               

पीली क्रांति

पीली क्रांति सोना उत्पादन से सम्बन्धित हैं। इसके उत्पादन में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के उद्देश्य से यह योजना प्रारम्भ की गई। तिलहन उतपासन कार्यक्रम में २३ राज्यों के ३३७ जिले शामिल हैं। इस क्रांति के परिणामस्वरुप भारत के खाद्य तेलों और तिलहन उत ...

                                               

संसाधन

संसाधन एक ऐसा स्रोत है जिसका उपयोग मनुष्य अपने इच्छाओं की पूर्ति के लिए के लिए करता है। कोई वस्तु प्रकृति में हो सकता है हमेशा से मौज़ूद रही हो लेकिन वह संसाधन नहीं कहलाती है, जब तक की मनुष्यों का उसमें हस्तक्षेप ना हो। हमारे पर्यावरण में उपलब्ध ...

                                               

संसाधन न्यूनीकरण

संसाधन की कमी का अर्थ है प्राकृतिक संसाधनों के लिए मनुष्य के द्वारा अपने आर्थिक लाभ के लिए इतनी तेजी से दोहन के लिए अपनी प्राकृतिक प्रक्रियाओं द्वारा पुनर्भरण नहीं किया जा सकता है पाया. यह काफी एक बहुत तेजी से बढ़ती जनसंख्या का परिणाम भी माना जा ...

                                               

हरित क्रांति (भारत)

भारत में हरित क्रांन्ति की शुरुआत सन 1967-68 में प्रारम्भ करने का श्रेय नोबल पुरस्कार विजेता प्रोफेसर नारमन बोरलॉग को जाता हैं।लेकिन भारत में एम. एस. स्वामीनाथन को इसका जनक माना जाता है। हरित क्रांन्ति से अभिप्राय देश के सिंचित एवं असिंचित कृषि क ...

                                               

खनिज ईंधन

                                               

प्रायद्वीप

प्रायद्वीप, भूमि के वो हिस्से हैं जिनके चारों ओर पानी होता है पर यह मुख्यभूमि से एक भू-सन्धि के द्वारा जुड़े रहते है। दूसरे शब्दों में प्रायद्वीप भूमि के वो भाग होते हैं जिनके तीन तरफ जल तथा एक ओर स्थल होती है। वर्ली प्रायद्वीप, मुम्बई कोलाबा प्र ...

                                               

सर्वोच्च बिन्दु

                                               

क्षेत्रानुसार अंटार्कटिका की स्थलाकृतियाँ

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →