ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 151



                                               

डॉ॰ बी॰आर॰ अम्बेडकर राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जालंधर

डॉ॰ बी. आर. अम्बेडकर राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, जालंधर, पंजाब की स्थापना १९८६ में की गई तथा इसे १७ अक्टूबर २००२ को राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जालंधर के रूप में स्तरोन्नत किया गया था। संस्थान में १३ विभाग हैं तथा यह कैमिकल तथा बायो-इंजीनियरी, ...

                                               

मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर

मालवीय राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, जयपुर, राजस्थान की स्थापना १९६३ में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे मालवीय राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा दिया गया। यह संस्थान नौ अवर स्नातक पाठयक्रम तथा १० पूर्णकालिक एवं पांच अंशकालिक स्नातकोत्तर पाठयक् ...

                                               

मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान इलाहाबाद

मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में स्थित भारत का प्रमुख राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान है। इसका पूर्व नाम मोतीलाल नेहरू क्षेत्रीय इंजीनियरिंग कालेज था। इसकी स्थापना १९६१ में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे राष्‍ट्र ...

                                               

मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, भोपाल

मौलाना आजाद राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, भोपाल की स्थापना १९६० में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा दिया गया। इस संस्थान में 8 विभाग हैं। यह संस्थान सिविल इंजीनियरी, अभियांत्रिकी इंजीनियरी, विद्युत इंजीनियरी, इ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान को पहले क्षेत्रीय इंजिनीयरिंग कालेज के नाम से जाना जाता था। सन् २००२ में भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इन १७ इंजिनीयरंग महाविद्यालयों का स्तर बढ़ाकर इनका नाम "राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान" कर दिया। भ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान सिक्किम

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सिक्किम, जो कि आम तौपर संदर्भित करने के लिए एनआईटी सिक्किम या एनआईटी एसकेएम के रूप में जाना जाता है, रावंगला शहर के पास सिक्किम, भारत में स्थित एक सार्वजनिक अभियांत्रिकी संस्थान है। यह भारत के ३१ राष्ट्रीय प्रौद्यो ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, अगरतला

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, अगरतला, त्रिपुरा की स्थापना वर्ष १९५५ में की गई थी और दिनांक १ अप्रैल २००६ को केन्द्र सरकार के पूर्णत: वित्त पोषित संस्थान के रूप में अधिग्रहित किया गया और राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, अगरतला बनाया गया। संस्थान अवर-स ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, उत्तराखंड

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, उत्तराखंड उत्तराखण्ड के श्रीनगर में स्थित एक राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान है। इसकी स्थापना २०१० में हुई थी।

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कालीकट

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, कालीकट, केरल की स्थापना १९६१ में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा प्रदान किया गया है। इस संस्थान में आठ विभाग हैं। यह संस्थान सिविल इंजीनियरी, रसायन इंजीनियरी, विद्युत तथा इलैक्ट्रॉ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कुरुक्षेत्र

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, कुरुक्षेत्र, हरियाणा क्षेत्रीय इंजीनियरिंग कालेज, कुरूक्षेत्र की स्थापना १९६३ में की गई थी तथा इसे २६ जून २००२ को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कुरूक्षेत्र के रूप में स्तरोन्नत किया गया था। संस्थान सिविल इंजीनियरिंग, इ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जमशेदपुर

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जमशेदपुर भारत के लगभग बीस राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में से एक है। पहले इसे क्षेत्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जमशेदपुर) के नाम से जाना जाता था। इसकी स्थापना १९६० में की गई थी तथा २७ दिसम्बर २००२ को इसे राष्ट्री ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, त्रिची

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, तिरुचिरापल्ली, जो पहले रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज, तिरुचिरापल्ली था, भारत के तिरुचिरापल्ली शहर में स्थित एक सार्वजनिक इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय है। इस संस्थान की स्थापना 1964 में देश की तकनीकी जनशक्ति ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दुर्गापुर

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, दुर्गापुर, पश्चिम बंगाल की स्थापना १९६० में की गई थी और ३ जुलाई २००३ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के रूप में परिवर्तित किया गया था। इस संस्थान में १५ विभाग हैं। यह संस्थान सिविल इंजीनियरी, विद्युत इंजीनियरी, अभ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, पटना

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, पटना, बिहार मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सृजित अठारहवाँ एनआईटी है जो पूर्व में बिहार इंजीनियरी कालेज, पटना था। संस्थान, विद्युत इंजीनियरी, अभियांत्रिकी इंजीनियरी, सिविल इंजीनियरी, इलैक्ट्रानिक एवं संचार ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, राउरकेला

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, राउरकेला, भारत का प्रमुख राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान है। इसकी स्थापना १९६० में की गई थी तथा इसे २६ जून २००२ को राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के रूप में स्तरोन्नत किया गया था। संस्थान में १८ विभाग हैं तथा यह रसायन इं ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रायपुर

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, रायपुर, छत्तीसगढ़ को दिनांक १ दिसम्बर २००५ से केन्द्रीय सरकार के पूर्णत: वित्तपोषित संस्थान के रूप में अधिग्रहित किया गया और राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा प्रदान किया गया। वर्तमान में संस्थान अवर स्नातक स्तर पर ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, वारांगल

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, वारांगल, आंध्र प्रदेश की स्थापना १९५९ में की गई थी और १० सितम्बर २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, वारंगल को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा दिया गया था। यह संस्थान, क्षेत्रीय इंजीनियरी कालेजों की श्रृ ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, श्रीनगर

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, श्रीनगर, कश्मीर की स्थापना १९६० में की गई थी तथा ७ अगस्त २००३ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा दिया गया था। संस्थान सिविल इंजीनियरिंग, विद्युत इंजीनियरिंग, इलैक्ट्रानिक तथा संचार इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजी ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सिलचर

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, सिलचर, की स्थापना एक राष्ट्रीय महत्व के संस्थान के रूप में सन् १९७६ में सिलचर में की गई थी। २८ जून २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सिलचर के रूप में स्तरोन्नत किया गया था। ६७० एकड़ जमीन पर फैला हुआ इसका भव्य ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सूरतकल

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, सूरतकल की स्थापना १९६० में की गई थी तथा २६ जून २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सूरतकल के रूप में स्तरोन्नत किया गया था। संस्थान, सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग तथा संचार इंजीनियरिंग, धातुकर्मीय इंजी ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, हमीरपुर

राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, हमीरपुर की स्थापना, १९८५ में की गई थी और २६ जून २००२ को इसे राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान का दर्जा प्रदान किया गया। बुनियादी सुविधाओं को उपलब्ध करवाने के लिहाज से विश्व बैंक द्वारा इस कालेज को सबसे अच्छी एनआईटी का दर्ज ...

                                               

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान,अरुणाचल प्रदेश

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, अरुणाचल प्रदेश युपिआ स्थित भारत का एक प्रमुख तकनीकी संस्थान है। इसका आरम्भ सन २०१० में हुआ था। अस्थायी रूप से संस्थान की कक्षाएं राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दुर्गापुर में चल रही हैं।

                                               

विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर

विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, नागपुर, महाराष्ट्र की स्थापना १९६० में की गई थी तथा इसे २६ जून २००२ को विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर के रूप में स्तरोन्नत कर दिया गया था। संस्थान में १३ विभाग हैं। संस्थान सिविल इ ...

                                               

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी नामक इस विषय के अन्तर्गत विज्ञान, प्रौद्योगिकी तथा इन दोनों के परस्पर सम्बन्धों एवं अन्तःक्रियाओं पर विचार किया जाता है। विज्ञान के विकास से प्रौद्योगिकी का विकास होता है क्योंकि बहुत सारी प्रौद्योगिकियाँ वैज्ञानिक सिद्धा ...

                                               

इन्सपायर योजना (भारत)

इन्सपायर) भारत के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया इंस्‍पायर कार्यक्रम एक अनोखा कार्यक्रम है, जिसके तहत विज्ञान में बेहतरीन प्रतिभावान छात्रों को आकर्षित करने का प्रयास किया जायेगा, इसके साथ ही विज्ञान संबंधी रोजगार चुनने के ...

                                               

उद्भार

उद्भार या लोड से विभिन्न सन्दर्भों में भिन्न-भिन्न अर्थ निकल सकते हैं, जैसे- विद्युत भार इलेक्ट्रिक लोड यांत्रिक भार मेकैनिकल लोड संरचना भार स्ट्रक्चरल लोड माल कार्गो

                                               

प्राचीन भारतीय विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी

प्राचीन भारतीय विज्ञान तथा तकनीक को जानने के लिये प्राचीन साहित्य और पुरातत्व का सहारा लेना पड़ता है। प्राचीन भारत का साहित्य अत्यन्त विपुल एवं विविधतासम्पन्न है। इसमें धर्म, दर्शन, भाषा, व्याकरण आदि के अतिरिक्त गणित, ज्योतिष, सैन्य विज्ञान, आयुर ...

                                               

भारतीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी का इतिहास

भारत की विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की विकास-यात्रा प्रागैतिहासिक काल से आरम्भ होती है। भारत का अतीत ज्ञान से परिपूर्ण था और भारतीय संसार का नेतृत्व करते थे। सबसे प्राचीन वैज्ञानिक एवं तकनीकी मानवीय क्रियाकलाप मेहरगढ़ में पाये गये हैं जो अब पाकिस्ता ...

                                               

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (भारत)

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के नए क्षेत्रों को बढ़ावा देने के उद्देश्य उन विषयों से सम्बन्धित गतिविधियों के आयोजन एवं समन्वय के लिए स्थापित किया गया एक विभाग है। इसकी स्थापना मई १९७१ में की गई थी। यह भारत ...

                                               

विज्ञान, प्रौद्योगिकी और समाज

विज्ञान, प्रौद्योगिकी और समाज या विज्ञान और प्रौद्योगिकी अध्ययन अध्ययन का वह क्षेत्र है जिसमें यह अध्ययन किया जाता है कि समाज, राजनीति एवं संस्कृति किस तरह से वैज्ञानिक अनुसन्धान एवं प्रौद्योगिक नवाचार को किस प्रकार प्रभावित करते हैं।

                                               

भारत में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

                                               

भारत में विज्ञान और प्रौद्योगिकी का इतिहास

                                               

महाद्वीप के अनुसार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

                                               

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी का इतिहास

                                               

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की पत्रिकायें

                                               

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के जर्नल

                                               

वैमानिकी

                                               

समाज में विज्ञान

                                               

एलेक्ट्रॉन पुंज वेल्डन

एलेक्ट्रॉन पुंज वेल्डन या एलेक्ट्रान बीम वेल्डिंग) वेल्डन की विधि है जिसमें उच्च उर्जा के एलेक्ट्रान का उपयोग किया जाता है। यह एक फ्यूजन वेल्डन प्रक्रिया है। जब एलेक्ट्रान पुंज जोड़ के आसपास के पदार्थों पर गिरता है तो उसकी गतिज उर्जा उष्मा में बद ...

                                               

वेल्डिंग

झलाई या वेल्डन, निर्माण की एक प्रक्रिया है जो चीजों को जोडने के काम आती है। झलाई द्वारा मुख्यतः धातुएँ तथा थर्मोप्लास्टिक जोड़े जाते हैं। इस प्रक्रिया में सम्बन्धित टुकड़ों को गर्म करके पिघला लिया जाता है और उसमें एक फिलर सामग्री को भी पिघलाकर मि ...

                                               

अतिसूक्ष्मदर्शी

अतिसूक्ष्मदर्शी एक ऐसा उपकरण है जिसकी सहायता से बहुत छोटे-छोटे कण, जो लगभग अणु के आकार के होते हैं और साधारण सूक्ष्मदर्शी से नहीं दिखाई देते, देखे जा सकते हैं। वास्तव में यह कोई नवीन उपकरण नहीं है, केवल एक अच्छा सूक्ष्मदर्शी ही है, जिसकी विशेष री ...

                                               

देह परीक्षक यंत्र

यह रेडियो तरंगों के जरिए कपड़ों के भीतर शरीर का चित्र ले सकने और छिपाये गये किसी भी संदिग्ध वस्तु का पता लगा सकने में सक्षम यंत्र है। इसका उपयोग हवाई अड्डे पर सुरक्षा जाँच के लिए किया जाता है।

                                               

द्रव्यमान स्पेक्ट्रममिति

द्रव्यमान स्पेक्ट्रममिति एक विश्लेषणात्मक तकनीक है जिस के द्वारा किसी मिश्रण में उपस्थित पृथक रासायनिक जातियों को पहले आयनित कर के विद्युत आवेश दिया जाता है और फिर उनके द्रव्यमान और आवेश के अनुपात के आधापर अलग-अलग करा जाता है। इस तकनीक के द्वारा ...

                                               

बैरोमीटर

बैरोमीटर का पाठ्यांक अचानक गिरने से आँधी व तूफ़ान का संकेत होता हैं। बैरोमीटर या वायुदाबमापी एक यंत्र होता है जिसके द्वारा वायुमण्डल के दबाव को मापा जाता है। वायुदाब को मापने के लिये बैरोमीटर में पानी, हवा अथवा पारा का प्रयोग किया जाता है। बैरोमी ...

                                               

मल्टीमीटर

बहुमापी या मल्टीमीटर एक ऐसा उपकरण है जो कई भौतिक राशियों आदि) को मापने के काम में आता है। पहले एनालॉग मल्टीमीटर प्रचलन में आये किन्तु एलेक्ट्रानिक्स के विकास के साथ आजकल डिजिटल मल्टीमीटर भी खूब प्रचलन में आ गये हैं।

                                               

वान डी ग्राफ़ जेनरेटर

वान डी ग्राफ़ जेनरेटर एक स्थिरवैद्युत जनित्र है जो एक गतिशील पट्टे का उपयोग करते हुए धातु के एक खोखले गोले के ऊपर विद्युत आवेश एकत्र करता है। धातु का यह गोला एक विद्युतरोधी स्तम्भ के ऊपरी भाग पर स्थापित होता है। इस गोले पर आवेश इकट्ठा करके इसका व ...

                                               

वैज्ञानिक यन्त्र

ऑल्टीमीटर - इससे विमानोँ की ऊँचाई नापी जाती हैं। मीटर - इस विद्युत धाराओं मापा जाता हैं. Anemometers pwnage - यह वायु की शक्ति और गति को मापा जाता हैं. रेडियोमीटर के स्क्रैप - यह आदमी की आवाज को सुनने की क्षमता को मापने के साधन हैं. वोडाफोन - इसे ...

                                               

वोल्टमीटर

वोल्टमीटर एक मापन यंत्र है जो किसी परिपथ के किन्हीं दो बिन्दुओं के बीच विभवान्तर को मापने के लिये प्रयोग किया जाता है। १८१९ में हैंस ऑरेस्टड ने वोल्टमीटर का आविष्कार किया। उन्होंने चुम्बकीय दिशासूचक की सुई के पास रखे तार में विद्युत धारा का प्रवा ...

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →